Connect with us

टेलीविजन

वेबसीरीज में एक लिमिट तक इंटीमेट सीन के लिए रेडी हूं: शमीन मन्नान

Published

on

Film प्रचार

टीवी शो संस्कार में एनआरआई गर्ल बनकर चर्चाओं में आने वाली शमीन मन्नान इन दिनों राम प्यारे सिर्फ हमारे में नजर आ रही हैं। इसमें वह कोयल नाम की महिला की भूमिका निभा रही हैं। वह असम के डिब्रूगढ़ की हैं और बचपन से ही कुछ अलग और उल्लेखनीय करना चाहती थीं। एक बातचीत में शमीन ने बताया अपने काम और जीवन के बारे में…

फिल्म प्रचार डेस्क

-कोयल की भूमिकाः इस रोल में मेरे अभिनय के कई शेड्स हैं। शो कॉमेडी है मगर मेरा किरदार रीयलिस्टिक है। कोयल ग्लैमरस है और अतरंगी कपड़े पहनती है। वह चार्मिंग है और उसे अपने जीवन के उद्देश्य पता हैं। यह सास बहू वाले किरदारों से अलग है। इसलिए मुझे काफी तैयारियां करनी पड़ी। इस रोल से मैं अधिक रिलेट नहीं कर पा रही हूं पर यह एक मजबूत किरदार है। कोयल में आत्मविश्वास बहुत है और वह जानती है कि उसे क्या चाहिए। यहां मैं खुद को कोयल से रिलेट कर सकती हूं क्योंकि मैं जानती हूं कि मुझे कब क्या चाहिए और ये मुझे पता होता है।

-अभिनय की प्रेरणा और पहला ब्रेकः बचपन से ही इच्छा थी कि अभिनेत्री बनूं क्योंकि जब एक्टर्स के इंटरव्यू देखती थी, तो मुझे उस लाइफ को जीने की इच्छा होती थी। परिवार में मुझे डॉक्टर या इंजीनियर बनने की शिक्षा दी गई थी। मैंने उनके सपने को अपना बना लिया था, लेकिन स्कूल में डांस या फैशन शो, नाटक में भाग लेती थी। जब मैं इंजीनियरिंग कर रही थी, तो एक-दो नाटकों में काम करने का मौका मिला। तब मैं बंगलुरू में पढ़ रही थी। वहां बालाजी टेलीफिल्म्स का ऑडिशन हो रहा था। मैं भी देखने गई और बहुत सारी लड़कियों में एक भूमिका के लिए शार्ट लिस्ट हो गई। पर फाइनल तक नहीं पहुंची। तब मुझे लगा कि मुझे इस क्षेत्र में ट्राय करना है क्योंकि इंजीनीरिंग में मेरा मन बिल्कुल नहीं लग रहा था। मैं मुंबई आ गई और ऑडिशन देना शुरू किया। 3 महीने के अंदर मुझे धारावाहिक संतान मिल गया था। ये मेरा पहला ब्रेक था।

-सवाल आउडसाइडर होने काः हमें बाहर से आने पर पहले अवसर के लिए बहुत संघर्ष करना पड़ता है, जो स्टार किड्स को नहीं करना पड़ता। शुरू में मेरा कोई जुड़ाव इंडस्ट्री से नहीं था लेकिन जो भी लोग मिले, अच्छे ही मिले। पहले के बाद दूसरा, दूसरे के बाद तीसरा इस तरह अच्छे काम मिलने का क्रम हमेशा चलता ही रहता है।

-परिवार और पढ़ाईः मेरे ऐक्टिंग में आने से परिवार वाले शॉक्ड थे। उन्हें शुरू में पता नहीं था कि मैं ऐक्टिंग में आ गई हूं। मैंने जब उनसे कहा कि आप टीवी पर मुझे देखिए तो उनका कुछ अच्छा रिएक्शन नहीं था, लेकिन जब आसपास के लोग मेरे काम की तारीफ करने लगे तो धीरे-धीरे उन्होंने मेरे काम को स्वीकार किया। बंगलुरू ऑडिशन के दौरान भले ही मेरा सिलेक्शन नहीं हुआ, लेकिन शार्ट लिस्ट होने से कॉन्फिडेंस आ गया था। फिर मेरी एक दोस्त ने मुझे सीरीयसली ट्राय करने की सलाह दी। बंगलुरु में भी मैंने कई विज्ञापनों में काम किया। पोर्टफोलियो बनवाया और मुंबई आ गई।

-कुछ और बातें: मेरे हिसाब से अभी तक मैं वैसा शो नहीं कर पाई हूं, जो जीवन बदल दे। फिल्मों में मौका मिलेगा तो अवश्य करूंगी। वैसे आजकल टीवी, वेब और फिल्म में कोई अंतर नहीं है। फिर भी फिल्म और वेबसीरीज ट्राय करुंगी। मैं खाली समय में पेंटिंग करती हूं। वेब सीरीज में इंटिमेट सीन होते है। उसके लिए मैं एक लिमिट तक रेडी हूं। कुछ भी नहीं कर सकती। मैं शादीशुदा हूं और दिल की हर बात पति से शेयर करती हूं। अगर सेक्सुअलिटी कहानी की मांग है तभी मैं उसके लिए तैयार हूं।


Film प्रचार
Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *