Connect with us

CORONA टॉकीज

जानिए, कोरोना और लॉकडाउन में कैसे लगा है सितारों की कमाई को झटका

Published

on

Film प्रचार

फिल्म प्रचार डेस्क

कोराना और इसकी वजह से पूरे देश में लगे लॉकडाउन के कारण फिल्म इंडस्ट्री लगभग ठप्प पड़ चुकी है। मार्च से सितंबर आ गया और इस बीच ऐशो-आराम में रहने और हफ्ते-हफ्ते में मोटी कमाई करने वाले सितारों के हाथों से कमाई के मौके सरक गए हैं। हालांकि ज्यादातर सितारे मन मान कर खाली बैठे हैं क्योंकि कमाई का कोई उपाय नहीं है। फिल्मों की शूटिंग बंद हैं। जहां फिल्मों की योजना बन रही है, वहां से बातें फाइनल होने के बाद भी कोई पैसा रिलीज नहीं हो रहा है क्योंकि किसी को नहीं मालूम की पक्के तौर पर शूटिंग कब शुरू हो पाएगी। फिल्मी सितारों का काम संभालने वाली एजेंसियों के सामने भी अपने क्लाइंट्स लाने में मुश्किल हो रही है।

बड़े सितारों को संभालने वाली एक सेलेब्रिटी कंपनी के मालिक के अनुसार कोरोना ने काफी कुछ बदल दिया है। सबसे बड़ा बदलाव यह आया है कि कंपनियां अब प्रिंट या टीवी से ज्यादा डिजिटल स्पेश में अपने विज्ञापन देखना चाहती हैं। नतीजा यह कि वह फिल्मी सितारों के बजाय ऐसे चेहरों की डिमांड कर रही हैं, जिनके सोशल मीडिया में ज्यादा से ज्यादा फॉलोअर्स हैं। ऐसे में कंपनियां यह दिखवा रही हैं कि किस ऐक्टर के ट्विटर, इंस्टाग्राम या फेसबुक पर कितने फॉलोअर हैं। जो सितारे सोशल मीडिया में नहीं हैं, कंपनियां उन पर पहले सोशल मीडिया में आने की शर्त रख रही हैं। ऐसे में सेलेब्रिटी मैनेजमेंट कंपनियां सितारों-ऐक्टरों को सोशल मीडिया में आने को कह रही हैं।

मैनेजमेंट कंपनियों की मानें तो कोरोना में सितारों की कमाई को तगड़ा झटका लगा है। विज्ञापनों से मिलने वाली फीस में तो भारी कटौती आई ही है, ऐसे कार्यक्रम भी बंद हो गए हैं, जहां इन सितारों को बुलाया जाता था और बदले में ये अपीयरेंस की फीस लेते थे। शाद ब्याह, बर्थ डे पार्टियां, कारपोरेट्स के कार्यक्रम सब ठंडे पड़े हैं। फीते वगैरह काटने के मौके भी इधर खत्म हो चुक हैं। इस तरह सितारों के जीवन से अपीरेंस मनी गायब हो गई है। नए विज्ञापन सिर्फ डिजिटल के हिसाब से शूट हो रहे हैं तो उनके बजट कम हैं। फिल्मों का काम पहले से ही बंद है। मैनेजमेंट कंपनियों के अनुसार सितारे 2020 के आगे हथियार डाल चुके हैं और मान चुके हैं कि यह साल उनकी कमाई का नहीं है।


Film प्रचार