Connect with us

न्यूज और गॉसिप

सुशांत की ‘दोस्त-अभिनेत्री’ ने कराया है रिया के षड्यंत्रों का पर्दाफाश

Published

on

Film प्रचार

सुशांत की मौत की गुत्थी सुलझाने में उनकी एक ‘दोस्त-अभिनेत्री’ सक्रिय भूमिका निभा रही है। उसकी कोशिशों से ही रिया चक्रवर्ती के कारनामों से पर्दा उठा और सुशांत के पिता ने एफआईआर दर्ज कराई…

फिल्म प्रचार डेस्क

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant singh rajpoot) की मौत के 45 दिनों बाद कैसे उनके पिता ने पटना पुलिस में एफआईआर दर्ज (FIR) कराई और कैसे अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती पर गंभीर आरोप लगाए, कई लोग इस सवाल का जवाब जानना चाहते हैं। खबर आ रही है कि बीते 45 दिनों में सुशांत के पिता और उनके परिवार तक रिया के राज तथा षड्यंत्रों का पर्दाफाश करने में इस अभिनेता की एक ‘दोस्त-अभिनेत्री’ ने परिवार की मदद की। उसने ऐसे सबूत सिंह परिवार के पास पहुंचाए, जिनसे साफ होता है कि रिया ने सुशांत पर पूरी तरह से कब्जा कर लिया था और वह उन्हें कुछ भी अपने मन से नहीं कने देती थी। पोर्टल पीपिंगमून डॉट कॉम ने अपनी खबर में इस संबंध में जानकारी दी है।

खबर के अनुसार यह ‘दोस्त-अभिनेत्री’ अपना नाम सामने नहीं लाना चाहती है। इस अभिनेत्री के अनुसार सुशांत रिया से बहुत परेशान थे। सुशांत अपने दुख-दर्द इस ‘दोस्त-अभिनेत्री’ से बांटते थे और वाट्सऐप (Whattsapp) पर सारी बातें शेयर करते थे। बताया जाता है कि यह अभिनेत्री सुशांत की मौत के बाद दो बार परिवार के सदस्यों, पिता और चेचेरे भाइयों से पटना जाकर मिली और उन्हें सुशांत से बातचीत के स्क्रीन शॉट्स शेयर किए, जिनसे साफ है कि कैसे रिया ने उन पर मानसिक दबाव बनाया हुआ था। साथ ही पता चला कि रिया सुशांत को ब्लैकमेल करती थी। ‘दोस्त-अभिनेत्री’ ने सुशांत के पिता को बताया कि रिया का पूरा परिवार सुशांत पर अपना शिकंजा कस चुका था और उसके पैसों को खुल कर खर्च कर रहा था। सुशांत ने इस ‘दोस्त-अभिनेत्री’ को बताया था कि रिया की मां संध्या चक्रवर्ती उनके ही फ्लैट में रहती थी और यह बात इस ऐक्टर को अच्छी नहीं लगती थी। परंतु वह कुछ नहीं कर पाता था। सुशांत रिया के साथ अपने जहर बुझे रिश्तों  को खत्म करना चाहते थे मगर वह बार-बार मीडिया में उन्हें बदनाम करने की धमकियां देती थीं। जिसका नतीजा यह हुआ कि सुशांत ने खुद को खामोश कर लेने का फैसला किया।

रिया रखती थी सुशांत के फोन पर नजर

सुशांत ने अपनी ‘दोस्त-अभिनेत्री’ को वाट्सऐप पर यह भी बताया था कि रिया उनके फोन पर नजर रखती है कि वह कहां-कब-किससे बातें कर रहे हैं। इसलिए सुशांत इस ‘दोस्त-अभिनेत्री’ से बात करने के बाद उनके चैट डिलीट कर दिया करते थे। बाद में रिया को शक हो गया था तो उन्होंने चार लाख रुपये में तीन महंगे फोन खरीदे और उनमें से एक सुशांत को यूज करने के लिए दिया। दो रिया ने खुद रख लिए। यही नहीं, ‘दोस्त-अभिनेत्री’ के मुताबिक रिया ने सुशांत के भरोसेमंद घरेलू नौकरों को निकाल दिया था। बताया जाता है कि ‘दोस्त-अभिनेत्री’ ने सुशांत के सीए से लेकर उनके अकाउंट्स के कागजात भी उनके पिता को दिलाए, जिससे पता चला कि इस ऐक्टर के खातों से बेहिसाब धन निकाला गया है। साथी ही इस ‘दोस्त-अभिनेत्री’ ने ही बताया है कि कैसे रिया ने सुशांत पर महंगी कारें खरीदने का दबाव डाला और बाद में एक कार खो गई, जो बाद में पता चला कि रिया का भाई चला रहा है। इस ‘दोस्त-अभिनेत्री’ द्वारा उपलब्ध जानकारियों की सुशांत के आईपीएस जीजा ने जांच कराई और उन्हें सही पाया। इसके बाद ही परिवार ने बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार से मदद मांगी और रिया तथा उनके परिवार के विरुद्ध पटना में एफआई दर्ज कराने का फैसला किया।


Film प्रचार